9/14/10

उस्ताद बिस्मिल्ला खान: इंटरव्यू, शहनाई के बीच- 1

उस्ताद बिस्मिल्ला खान को कौन नहीं जानता! वे शहनाई के बादशाह थे, सुर उनके पीछे खिंचे आते थे, वे संत थे. उनमें पूरा बनारस बोलता था. सुनिए उनका एक बहुत जबरदस्त इंटरव्यू, जो उनके शहनाई वादन से गुंथा है.
यह इंटरव्यू २० भागों में है. ज्यों ज्यों आप इसे सुनते जाते हैं, संगीत की, नम्रता की, मौज की, बराबरी की, बनारस की एक दिलकश दुनिया आपके सामने खुलती जाती है. यहाँ शहनाई और उस्ताद, दोनों एकमेक हो गए हैं. बारी बारी से मैं इसे आपको सुनवाता रहूँगा.
आज इस पोस्ट में सुनिए उसके दो भाग-

2 comments:

अशोक बजाज said...

आपका पोस्ट सराहनीय है . हिंदी दिवस की बधाई .

हमारीवाणी.कॉम said...

क्या आप ब्लॉग संकलक हमारीवाणी के सदस्य हैं?

हमारीवाणी पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि